Section 171 The Army Act, 1950


Section 171 The Army Act, 1950 in Hindi and English 



Section 171 The Army Act, 1950  :Execution of sentence of imprisonment in special cases. Whenever, in the opinion of an officer commanding an army, army corps, division or independent brigade, any sentence or portion of a sentence of imprisonment cannot for special reasons, conveniently be carried out in a military prison or in military custody in accordance with the provision of section 169 such officer may direct that such sentence or portion of sentence shall be carried out by confinement in any civil, prison or other fit place.



Supreme Court of India Important Judgments And Case Law Related to Section 171 of The Army Act, 1950  :


सेना अधिनियम, 1950 की धारा 171 का विवरण :  -  विशेष दशाओं में कारावास के दण्डादेश का निष्पादन - जब कभी किसी सेना, सेना-कोर, डिवीजन या स्वतंत्र ब्रिगेड का समादेशन करने वाले आफिसर की राय में, कारावास का कोई दण्डादेश या कारावास के दण्डादेश का कोई प्रभाग धारा 169 के उपबन्धों के अनुसार किसी सैनिक कारागार में या सैनिक अभिरक्षा में विशेष कारणों से सुविधापूर्वक कार्यान्वित नहीं किया जा सकता, तब वह, आफिसर निदेश दे सकेगा कि वह दण्डादेश या उस दण्डादेश का वह प्रभाग किसी सिविल कारागार या अन्य उचित स्थान में परिरोध द्वारा कार्यान्वित किया जाए।



To download this dhara / Section of Contract Act in pdf format use chrome web browser and use keys [Ctrl + P] and save as pdf.

Comments

Popular posts from this blog

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution