Section 150 The Army Act, 1950

 

Section 150 The Army Act, 1950 in Hindi and English 



Section 150 The Army Act, 1950  :Order for custody and disposal of property pending trial. When any property regarding which any offence appears to have been committed, or which appears to have been used for the commission of any offence, is produced before a court- martial during a trial, the court may make such order as it thinks fit for the proper custody of such property pending the conclusion of the trial, and if the property is subject to speedy or natural decay may, after recording such evidence as it thinks necessary, order it to be sold or otherwise disposed of.



Supreme Court of India Important Judgments And Case Law Related to Section 150 of The Army Act, 1950  :

Som Datt Datta vs Union Of India And Ors on 20 September, 1968

Supreme Court of India 



सेना अधिनियम, 1950 की धारा 150 का विवरण :  -  विचारण के लम्बित रहने तक सम्पत्ति की अभिरक्षा और व्ययन के लिए आदेश - जब कि कोई सम्पत्ति, जिसके बारे में कोई अपराध किया गया प्रतीत होता है, या जो कोई अपराध करने के लिए उपयोग में लाई गई प्रतीत होती है, किसी सेना-न्यायालय के समक्ष विचारण के दौरान पेश की जाएं, तब न्यायालय विचारण की समाप्ति होने तक के लिए ऐसी सम्पत्ति की उचित अभिरक्षा के लिए ऐसा आदेश कर सकेगा जैसा वह ठीक समझे और यदि सम्पत्ति शीघ्रतया या प्रकृत्या क्षयशील है तो ऐसा साक्ष्य जैसा वह आवश्यक समझे अभिलिखित करने के पश्चात् उसे बेच देने या अन्यथा व्ययनित करने का आदेश दे सकेगा।



To download this dhara / Section of Contract Act in pdf format use chrome web browser and use keys [Ctrl + P] and save as pdf.


Comments

Popular posts from this blog

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution