Section 56 The Trade Marks Act, 1999

 


Section 56 The Trade Marks Act, 1999: 

Use of trade mark for export trade and use when form of trade connection changes.—

(1) The application in India of trade mark to goods to be exported from India or in relation to services for use outside India and any other act done in India in relation to goods to be so exported or services so rendered outside India which, if done in relation to goods to be sold or services provided or otherwise traded in within India would constitute use of a trade mark therein, shall be deemed to constitute use of the trade mark in relation to those goods or services for any purpose for which such use is material under this Act or any other law.

(2) The use of a registered trade mark in relation to goods or services between which and the person using the mark any form of connection in the course of trade subsists shall not be deemed to be likely to cause deception or confusion on the ground only that the mark has been or is used in relation to goods or services between which and the said person or a predecessor in title of that person a different form of connection in the course of trade subsisted or subsists.



Supreme Court of India Important Judgments And Leading Case Law Related to Section 56 The Trade Marks Act, 1999: 

Whirlpool Corporation vs Registrar Of Trade Marks, Mumbai & on 26 October, 1998

Whirlpool Corporation vs Registrar Of Trade Marks, Mumbai & on 26 October, 1998

Patel Field Marshal Agencies And vs P.M Diesels Ltd. And Ors. on 29 November, 2017

Infosys Technologies Ltd vs Jupiter Infosys Ltd. & Anr on 9 November, 2010

Vishnudas Trading As Vishnudas vs The Vazir Sultan Tobaccoco. Ltd. on 9 July, 1996

M/S. Thukral Mechanical Works vs P.M. Diesels Pvt. Ltd. & Anr on 18 December, 2008

American Home Products vs Mac Laboratories Private Limited on 30 September, 1985

Kabushiki Kaisha Toshiba vs Tosiba Appliances Co. & Ors on 16 May, 2008

M/S S.M. Dyechem Ltd vs M/S Cadbury (India) Ltd on 9 May, 2000

M/S S.M. Dyechem Ltd vs M/S Cadbury (India) Ltd on 9 May, 2000



व्यापार चिह्न अधिनियम, 1999 की धारा 56 का विवरण : 

व्यापार चिह्न का निर्यात व्यापार के लिए उपयोग और व्यापार संबंध का स्वरूप बदलने पर उपयोग-(1) भारत से निर्यात किए जाने वाले माल को या भारत के बाहर उपयोग के लिए सेवाओं के संबंध में भारत में व्यापार चिह्न का उपयोजन और भारत से इस प्रकार निर्यात किए जाने वाले मालों या भारत से बाहर इस प्रकार की गई सेवाओं के संबंध में भारत में किया गया कोई अन्य कार्य, जो यदि भारत के भीतर विक्रय किए जाने वाले माल या उपबंधित सेवाओं या अन्यथा व्यापार किए जाने वाले माल या सेवाओं के संबंध में किया जाता तो भारत में व्यापार चिह्न का उपयोग होता, उस माल या सेवाओं के संबंध में किसी ऐसे प्रयोजनार्थ, जिसके लिए ऐसा उपयोग इस अधिनियम या किसी अन्य विधि के अधीन तात्त्विक है, व्यापार चिह्न का उपयोग समझा जाएगा ।

(2) ऐसे माल या सेवाओं के संबंध में रजिस्ट्रीकृत व्यापार चिह्न के उपयोग से, जिनके और चिह्न का उपयोग करने वाले व्यक्ति के बीच व्यापार के अनुक्रम में किसी प्रकार का संबंध अस्तित्ववान है, यह नहीं समझा जाएगा कि उससे केवल इस आधार पर धोखा या भ्रम होने की संभावना है कि चिह्न का ऐसे माल या सेवाओं के संबंध में उपयोग किया गया है या उपयोग किया जाता है, जिनके और उक्त व्यक्ति के या उस व्यक्ति के पूर्ववर्ती के बीच व्यापार के अनुक्रम में कोई भिन्न संबंध अस्तित्ववान था या है ।



To download this dhara / Section of  The Trade Marks Act, 1999 in pdf format use chrome web browser and use keys [Ctrl + P] and save as pdf.

Comments

Popular posts from this blog

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution