Section 51 CrPC

 

Section 51 CrPC in Hindi and English



Section 51 of CrPC 1973 :- 51. Search of arrested persons — (1) Whenever a person is arrested by a police officer under a warrant which does not provide for the taking of bail, or under a warrant which provides for the taking of bail but the person arrested cannot furnish bail, and

whenever a person is arrested without warrant, or by a private person under a warrant and cannot legally be admitted to bail, or is unable to furnish bail,


the officer making the arrest or, when the arrest is made by a private person, the police officer to whom he makes over the person arrested, may search such person and place in safe custody all articles, other than necessary wearing-apparel, found upon him and where any article is seized from the arrested person, a receipt showing the articles taken in possession by the police officer shall be given to such person.

(2) Whenever it is necessary to cause a female to be searched, the search shall be made by another female with strict regard to decency.



Supreme Court of India Important Judgments And Case Law Related to Section 51 of Criminal Procedure Code 1973:

Wazir Chand vs The State Of Himachal  on 22 April, 1954

Anwar Ahmad vs State Of U.P on 12 September, 1975

Bishambhar Dayal Chandra Mohan vs State Of Uttar Pradesh & Ors on 5 November, 1981

Kehar Singh & Ors vs State (Delhi Admn.) on 3 August, 1988

Sanjay Kumar Jain vs State Of Delhi on 16 December, 2010

Tofan Singh vs The State Of Tamil Nadu on 29 October, 2020



दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 51 का विवरण :  -  51. गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों की तलाशी -- (1) जब कभी पुलिस अधिकारी द्वारा ऐसे वारण्ट के अधीन, जो जमानत लिए जाने का उपबन्ध नहीं करता है या ऐसे वारण्ट के अधीन, जो जमानत लिए जाने का उपबन्ध करता है किन्तु गिरफ्तार किया गया व्यक्ति जमानत नहीं दे सकता है, कोई व्यक्ति गिरफ्तार किया जाता है, तथा 


जब कभी कोई व्यक्ति वारण्ट के बिना या प्राइवेट व्यक्ति द्वारा वारण्ट के अधीन गिरफ्तार किया जाता है और वैध रूप से उसकी जमानत नहीं ली जा सकती है या वह जमानत देने में असमर्थ है,

तब गिरफ्तारी करने वाला अधिकारी, या जब गिरफ्तारी प्राइवेट व्यक्ति द्वारा की जाती है तब वह पुलिस अधिकारी, जिसे वह व्यक्ति गिरफ्तार किए गए व्यक्ति को सौंपता है, उस व्यक्ति की तलाशी ले सकता है और पहनने के आवश्यक वस्त्रों को छोड़कर, उसके पास पाई गई सब वस्तुओं को सुरक्षित अभिरक्षा में रख सकता है और जहाँ गिरफ्तार किए गए व्यक्ति से कोई वस्तु अभिगृहीत की जाती है वहाँ ऐसे व्यक्ति को एक रसीद दी जाएगी जिसमें पुलिस अधिकारी द्वारा कब्जे में की गई वस्तुएँ दर्शित होगी ।

(2) जब कभी किसी स्त्री की तलाशी करना आवश्यक हो तब ऐसी तलाशी शिष्टता का पूरा ध्यान रखते हुए अन्य स्त्री द्वारा की जाएगी।



To download this dhara / Section of CrPC in pdf format use chrome web browser and use keys [Ctrl + P] and save as pdf.

Comments

Popular posts from this blog

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution