Section 455 CrPC

 

Section 455 CrPC in Hindi and English



Section 455 of CrPC 1973 :- 455. Destruction of libellous and other matter -

(1) On a conviction under section 292, section 293, section 501 or section 502 of the Indian Penal Code (45 of 1860), the Court may order the destruction of all the copies of the thing in respect of which the conviction was had and which are in the custody of the Court or remain in the possession or power of the person convicted.

(2) The Court may, in like manner, on a conviction under section 272, section 273, section 274, or section 275 of the Indian Penal Code (45 of 1860), order the food, drink, drug or medical preparation in respect of which the conviction was had, to be destroyed.



Supreme Court of India Important Judgments And Case Law Related to Section 455 of Criminal Procedure Code 1973:

Gajraj Yadav vs Rajendra Singh @ Deena & Ors on 24 October, 2008



दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 455 का विवरण :  -  455. अपमानलेखीय और अन्य सामग्री को नष्ट किया जाना --

(1) भारतीय दण्ड संहिता (1860 का 45) की धारा 292, धारा 293, धारा 501 या धारा 502 के अधीन दोषसिद्धि पर न्यायालय उस चीज की सब प्रतियों के, जिसके बारे में दोषसिद्धि हुई है और जो न्यायालय की अभिरक्षा में है, या सिद्धदोष व्यक्ति के कब्जे या शक्ति में है, नष्ट किए जाने के लिए आदेश दे सकता है।

(2) न्यायालय, भारतीय दण्ड संहिता, 1860 (1860 का 45) की धारा 272, धारा 273, धारा 274 या धारा 275 के अधीन दोषसिद्धि पर उस खाद्य, पेय, औषधि या भेषजीय निर्मित के, जिसके बारे में दोषसिद्धि हुई है, नष्ट किए जाने का उसी प्रकार से आदेश दे सकता है।


To download this dhara / Section of CrPC in pdf format use chrome web browser and use keys [Ctrl + P] and save as pdf.


Comments

Popular posts from this blog

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution