Section 160 CrPC

Section 160 CrPC in Hindi and English


Section 160 of CrPC 1973 :- 160. Police Officer's power to require attendance of witnesses - (1) Any police Officer making an investigation under this Chapter may, by order in writing, require the attendance before himself of any person being within the limits of his own or any adjoining station who, from the information given or otherwise, appears to be acquainted with the facts and circumstances of the case; and such person shall attend as so required:

Provided that no male person '[under the age of fifteen years or above the age of sixty-five years or a woman or a mentally or physically disabled person] shall be required to attend at any place other than the place in which such male person or woman resides.

(2) The State Government may, by rules made in this behalf, provide for the payment by the police officer of the reasonable expenses of every person,



Supreme Court of India Important Judgments And Case Law Related to Section 160 of Criminal Procedure Code 1973:

Charansingh vs The State Of Maharashtra on 24 March, 2021

State Rep. By Inspector Of Police & vs N.M.T. Joy Immaculate on 5 May, 2004

Sadhwi Pragyna Singh Thakur vs State Of Maharashtra on 23 September, 2011

Kamalanantha And Ors vs State Of Tamil Nadu on 5 April, 2005

Raja Ram Jaiswal vs State Of Bihar on 4 April, 1963

State Of U.P vs Durga Prasad on 23 August, 1974

Sanjiv Rajendra Bhatt vs Union Of India & Ors on 13 October, 2015

Balkishan A. Devidayal Etc vs State Of Maharashtra Etc on 31 July, 1980

Nandini Satpathy vs Dani (P.L.) And Anr on 7 April, 1978

Onkar Nath Mishra & Ors vs State (Nct Of Delhi) & Anr on 14 December, 2007



दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 160 का विवरण :  - 160. साक्षियों की हाजिरी की अपेक्षा करने की पुलिस अधिकारी की शक्ति -- (1) कोई पुलिस अधिकारी, जो इस अध्याय के अधीन अन्वेषण कर रहा है, अपने थाने की या किसी पास के थाने की सीमाओं के अन्दर विद्यमान किसी ऐसे व्यक्ति से, जिसकी दी गई इत्तिला से या अन्यथा उस मामले के तथ्यों और परिस्थितियों से परिचित होना प्रतीत होता है, अपने समक्ष हाजिर होने की अपेक्षा लिखित आदेश द्वारा कर सकता है और वह व्यक्ति अपेक्षानुसार हाजिर होगा:

परन्तु किसी पुरुष से जो पन्द्रह वर्ष से कम आयु का या पैंसठ वर्ष से अधिक आयु का है या किसी स्त्री से या किसी मानसिक या शारीरिक रूप से नि:शक्त व्यक्ति से, ऐसे स्थान से जिसमें ऐसा पुरुष या स्त्री निवास करती है, भिन्न किसी स्थान पर हाजिर होने की अपेक्षा नहीं की जाएगी।

(2) अपने निवास स्थान से भिन्न किसी स्थान पर उपधारा (1) के अधीन हाजिर होने के लिए प्रत्येक व्यक्ति के उचित खर्चे का पुलिस अधिकारी द्वारा संदाय कराने के लिए राज्य सरकार इस निमित्त बनाए गए नियमों द्वारा उपबन्ध कर सकती है। 



To download this dhara / Section of CrPC in pdf format use chrome web browser and use keys [Ctrl + P] and save as pdf.

Comments

Popular posts from this blog

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution