Section 105K CrPC

 


Section 105K CrPC in Hindi and English


Section 105K of CrPC 1973 :- 105 K. - Procedure in respect of letter of request - Every letter of request, summons or warrant, received by the Central Government from and every letter of request, summons or warrant, to be transmitted to a contracting State under this Chapter shall be transmitted to a contracting State or, as the case may be, sent to the concerned Court in India in such form and in such manner as the Central Government may, by notification, specify in this behalf.


Supreme Court of India Important Judgments And Case Law Related to Section 105K of Criminal Procedure Code 1973:


दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 105 ट का विवरण :  - 105 ट. - अनुरोध-पत्र के बाबद प्रक्रिया -- इस अध्याय के अधीन केन्द्रीय सरकार को किसी संविदाकारी राज्य से प्राप्त प्रत्येक अनुरोध-पत्र, समन या वारण्ट और किसी संविदाकारी राज्य को पारेषित किया जाने वाला प्रत्येक अनुरोध-पत्र, समन या वारण्ट केन्द्रीय सरकार द्वारा, ऐसे प्ररूप में और ऐसी रीति से जो केन्द्रीय सरकार, अधिसूचना द्वारा, इस निमित्त विनिर्दिष्ट करे, यथास्थिति, संविदाकारी राज्य को पारेषित किया जाएगा या भारत के संबंधित न्यायालय को भेजा जाएगा।



To download this dhara / Sectio of CrPC in pdf format use chrome web browser and use keys [Ctrl + P] and save as pdf.

Comments

Popular posts from this blog

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution