How To File PIL And What are some essentials of drafting a PIL /जनहित याचिका कैसे दायर की जाती है


प्रश्न० उच्च न्यायालय और उच्चतम  न्यायालयों में लोक हित मुकदमा दायर करने के क्या विभिन्न तरीके हो सकते हैं ? 

उ०  संबंधित न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश को आवश्यक तत्वों तथा दस्तावेजों के साथ पत्र याचिका भेजी जा सकती है । इसे रजिस्टर पोस्ट द्वारा ही भेजना चाहिए ।

* न्यायालय की निशु वैदिक कार्य वंदन समितियों द्वारा सीधे न्यायालय में लोक हित मुकदमे दायर किए जा सकते हैं ।

 * किसी भी लोक हित  मुकदमे के संबंध में अधिवक्ता की सहायता द्वारा सीधे केस दायर किया जा सकता है। 

* स्वयसेवी संस्थाओं या आई. एल. फर्म द्वारा मामला दर्ज किया जा सकता है। 

          

  जनहित मुकदमा दायर करते समय ध्यान रखने योग्य बातें

1, पहले कानूनी समस्या के बारे में प्रभावित लोगों के साथ अच्छी तरह विचार-विमर्श कर ले ।

2, यह पता कर ले कि क्या मामले में लोगों के मूल अधिकारों का हनन हुआ है या नहीं क्यों की  यह स्पष्ट करना आवश्यक है कि किसी के मूल्य अधिकारों  पर हमला हुआ है ।

3 याचिका को पूरे तथ्यों, विस्तार वर्णन, तिथियों आदि का विवरण देते हुए लिखें ।

4 याचिका में लोगों द्वारा चाही गई राहत का विशेष रूप से उल्लेख करें ।

5 यदि संभव हो तो सभी प्रभावित लोगों के हस्ताक्षर करा दें ।

6 समस्या के संबंधित सभी उपलब्ध दस्तावेज समाचार पत्रों की कतरन फोटो चित्र जांच रिपोर्ट प्रमाण पत्र तथा शपथ पत्रों को एकत्र कर उन्हें याचिका के साथ परिशिष्ट सलग्न करें ।

7 यदि संभव हो तो याचिका दायर करने से पूर्व किसी सामाजिक विषयों में संकेत, अधिवक्ता अथवा स्थानीय कानूनी सहायता के  सदस्यों से परामर्श करें ।

8 याचिका को रजिष्टर कराने के पश्चात अध्यक्ष कानूनी सहायता परियोजना कार्यन्वयन समिति, उच्चतम न्यायालय अथवा संबंधित उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायधीश के पास भेजें ।

Comments

Popular posts from this blog

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution