Section 108A IPC in Hindi

 Section 108A IPC in Hindi and English



Section 108A of IPC 1860:- Abetment in India of offences outside India -

A person abets an offence within the meaning of this Code who, in India, abets the commission of any act without and beyond India which would constitute an offence if committed in India.

Illustration -

A, in India, instigates B, a foreigner in Goa, to commit a murder in Goa. A is guilty of abetting murder.



Supreme Court of India Important Judgments And Case Law Related to Section 108A of Indian Penal Code 1860: 

Shreya Singhal vs U.O.I on 24 March, 2015


आईपीसी, 1860 (भारतीय दंड संहिता) की धारा 108क का विवरण - भारत से बाहर के अपराधों का भारत में दुष्प्रेरण -

वह व्यक्ति इस संहिता के अर्थ के अन्तर्गत अपराध का दुष्प्रेरण करता है, जो भारत से बाहर और उससे परे किसी ऐसे कार्य के किए जाने का भारत में दुष्प्रेरण करता है, जो अपराध होगा, यदि भारत में किया जाए।

दृष्टांत -

क,भारत में ख को, जो गोवा में विदेशी है, गोवा में हत्या करने के लिए उकसाता है। क हत्या के दुष्प्रेरण का दोषी है।



To download this dhara of IPC in pdf format use chrome web browser and use keys [Ctrl + P] and save as pdf.

Comments

Popular posts from this blog

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution