Section 81 The Army Act, 1950

 

 Section 81 The Army Act, 1950 in Hindi and English 


   

Section 81 The Army Act, 1950  :Limit of punishments under section 80. 3

(2) In the case of an award of two or more of the punishments specified in clauses (a), (b), (c) and (d) of the said section, the punishment specified in clause (c) or clause (d) shall take effect only at the end of the punishment specified in clause (a) or clause (b).

 (3) When two or more of the punishments specified in the said clauses (a), (b) and (c) are awarded to a person conjointly, or when already undergoing one or more of the said punishments, the whole extent of the punishments shall not exceed in the aggregate forty- two days.

(4) The punishments specified in clauses 4[ (a), (b) and (c)] of section 80 shall not be awarded to any person who is of the rank of non- commissioned officer or was, at the time of committing the offence for which he is punished, of such rank.

(5) The punishment specified in clause (g) of the said section shall not be awarded to any person below the rank of a non- commissioned officer.



Supreme Court of India Important Judgments And Case Law Related to Section 81 of The Army Act, 1950  :



सेना अधिनियम, 1950 की धारा 81 का विवरण :  - धारा 80 के अधीन दण्डों की परिसीमा - 

(2) उक्त धारा के खण्ड (क), (ख), (ग) और (घ) में विनिर्दिष्ट दण्डों में से दो या अधिक के अधिनिर्णयन की दशा में खण्ड (ग) या खण्ड (घ) में विनिर्दिष्ट दण्ड खण्ड (क) या खण्ड (ख) में विनिर्दिष्ट दण्ड के खत्म होने पर ही प्रभावशील होगा।

(3) जब कि किसी व्यक्ति को उक्त खण्डों (क), (ख) और (ग) में विनिर्दिष्ट दण्डों में से दो या अधिक दण्ड संयुक्ततः अधिनिर्णीत किए गए हों या तब अधिनिर्णीत किए गए हों जब वह उक्त दण्डों में से एक या अधिक पहले से ही भोग रहा हो, तब उन दण्डों का सम्पूर्ण विस्तार कुल मिलाकर बयालीस दिन से अधिक नहीं होगा।

(4) धारा 80 के खण्डों [(क), (ख) और (ग)] में विनिर्दिष्ट दण्ड किसी ऐसे व्यक्ति को अधिनिर्णीत नहीं किए जाएंगे जो अनायुक्त आफिसर के रैंक का है या जो उस अपराध को करते समय जिसके लिए उसे दण्डित किया जाता है, ऐसे रैंक का था।

(5) उक्त धारा के खण्ड (छ) में विनिर्दिष्ट दण्ड अनायुक्त आफिसर के रैंक से नीचे के किसी व्यक्ति को अधिनिर्णीत नहीं किया जाएगा।



To download this dhara / Section of Contract Act in pdf format use chrome web browser and use keys [Ctrl + P] and save as pdf.

Comments

Popular posts from this blog

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution