Section 174A IPC in Hindi

 Section 174A IPC in Hindi and English


Section 174A of IPC 1860:-  Non-appearance in response to a proclamation under section 82 of Act 2 of 1974 -

Whoever fails to appear at the specified place and the specified time as required by a proclamation published under sub-section (1) of section 82 of the Code of Criminal Procedure, 1973 (2 of 1974) shall be punished with imprisonment for a term which may extend to three years or with fine or with both, and where a declaration has been made under sub-section (4) of that section pronouncing him as a proclaimed offender, he shall be punished with imprisonment for a term which may extend to seven years and shall also be liable to fine.



Supreme Court of India Important Judgments And Case Law Related to Section 174A of Indian Penal Code 1860:

Central Bureau Of Investigation vs Mohd.Parvez Abdul Kayuum on 5 July, 2019

Sushila Devi vs State Of Rajasthan & Ors on 24 September, 2013



आईपीसी, 1860 (भारतीय दंड संहिता) की धारा 174क का विवरण - 1974 के अधिनियम 2 की धारा 82 के अधीन किसी उद्घोषणा के उत्तर में गैरहाज़िरी -

जो कोई दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 (1974 का 2) की धारा 82 की उपधारा (1) के अधीन प्रकाशित किसी उद्घोषणा की अपेक्षानुसार विनिर्दिष्ट समय पर हाजिर होने में असफल रहता है, तो वह कारावास से, जिसकी अवधि तीन वर्ष तक की हो सकेगी या जुर्माने से या दोनों से दण्डित किया जाएगा और जहाँ उस धारा की उपधारा (4) के अधीन कोई ऐसी घोषणा की गई है जिसमें उसे उद्घोषित अपराधी के रूप में घोषित किया गया है, वहाँ वह कारावास से, जिसकी अवधि सात वर्ष तक की हो सकेगी दण्डित किया जाएगा और जुर्माने का भी दायी होगा।


To download this dhara of IPC in pdf format use chrome web browser and use keys [Ctrl + P] and save as pdf.

Comments

Popular posts from this blog

संविधान की प्रमुख विशेषताओं का उल्लेख | Characteristics of the Constitution of India

भारतीय संविधान से संबंधित 100 महत्वपूर्ण प्रश्न उतर

संविधान के अनुच्छेद 19 में मूल अधिकार | Fundamental Right of Freedom in Article 19 of Constitution