Women Rights & Protection in Indian Constitution - Some Questions and Answers in Hindi

प्रश्न : भारतीय संविधान में महिलाओं के प्रति सामान्य प्रस्ताव क्या है? 
उत्तर : 1 भारतीय संविधान प्रथम यह निश्चित करता है कि महिलाओं और पुरुषों के साथ एक सा बर्ताव किया जाए|
2 यह देखा गया है कि महिलाओं के साथ बहुत बुरा व्यवहार किया जाता है तथा उन्हें छोटा समझा जाता है|
3 संविधान राज्य को बाध्य करता है कि वह समाज के कमजोर वर्गों को जिसमें महिलाएं भी शामिल है, की स्थिति सुधारने के लिए विशेष उपाय करें|
4 संविधान यह भी संबंध करता है कि राज्य महिलाओं का अत्याचार रोकने के लिए कदम उठाए| प्रस्ताव  मौलिक अधिकारों में बताए गए है | तीसरे और चौथे राज्य के नीति निर्देशक सिद्धांतों में मिलते हैं जिनका पालन करने के लिए राज्य वाद्य है|

महिलाओं को समानता से संबंधित संवैधानिक प्रावधान उपलब्ध
प्रश्न : भारतीय संविधान महिला तथा पुरुषों में किस प्रकार समानता सुनिश्चित करता है? 
 उत्तर - अनुच्छेद 14 यह उपबन्ध करता है कि भारत राज्य क्षेत्र में किसी व्यक्ति को कानून से समक्ष समता से अथवा कानून के समान संरक्षण से वंचित नहीं किया जाएगा|

प्रश्न : संविधान महिलाओं के प्रति भेदभाव को किस प्रकार रोकता है? 
उत्तर - संविधान का अनुच्छेद 15(1) राज्य को धर्म, मूलवंश, जाति, लिंक जन्म - स्थान अथवा इनमें से किसी आधार पर किसी नागरिक के विरुद्ध और असमानता का व्यवहार करने से रोकता है| अनुच्छेद 16(1) तथा अनुच्छेद 16 (2)  राज्य को सामान्य रूप से तथा लिंग के आधार पर रोजगारोजगारों में भेदभाव से रोकते है|

प्रश्न : क्या राज्य के लिए यह उचित है कि वह महिलाओं के पक्ष में विशेष कानून बनाए? 
उत्तर -जी हां| संविधान का अनुच्छेद 15( 2) राज्य को यह अनुमति देता है कि वह महिलाओं के लाभ के लिए विशेष कानून बनाए|

प्रश्न : महिलाओं तथा पुरुषों को समान काम के लिए समान वेतन देने के संबंध में राज्य का क्या कर्तव्य है? 
उत्तर - संविधान का अनुच्छेद 29{घ) राज्य को अपनी नीति का इस प्रकार संचालन करने का निर्देश देता है ताकि पुरुषों तथा महिलाओं को समान कार्य के लिए समान वेतन मिले|
यह राज्य के नीति निर्देशक सिद्धांत है|इन नियमों के अनुरूप  मैं संसद ने सम्मान श्रमिक अधिनियम बनाया| यह अधिनियम महिलाओं तथा पुरुषों को समान कार्य के लिए समान वेतन देने की उपबन्ध करता है तथा महिलाओं के साथ लिंग के आधार पर भेदभाव की मनाही है|

प्रश्न : महिलाओं तथा पुरुषों के जीविका के प्राप्त साधन प्रदान करने के संबंध में राज्य का क्या कर्तव्य है? 
उत्तर - अनुच्छेद 39{क) राज्य को अपनी नीति का इन प्रकार संचालन करने का निर्देश देता है ताकि पुरुष तथा महिलाओं को जीविका के  पर्याप्त साधन प्राप्त करने का अधिकार हो| यह राज्य के लिए नीति- निर्देश सिद्धांत है|

प्रश्न : संविधान में राज्य के लिए वह कौन से उपउपबन्ध दिए गए हैं जिनका इस्तेमाल करके महिलाओं को शोषण से बचाया जा सके? 
उत्तर- अनुच्छेद 39(ड)  राज्य को विशेषतया अपनी नीति का इस प्रकार संचालन करने का निर्देश देता है ताकि कर्मचारियों महिलाओं और पुरुषों के स्वास्थ्य और शक्ति का तथा बच्चों के सुकुमार अवस्था का प्रयोग ना हो और आर्थिक आवश्यकता  से विवश होकर नागरिकों को ऐसे रोजगारों में न जाना पड़े जो  उनकी आयु या शक्ति के अनुकूल ना हो| यह प्रावधान राज्य के नीति निर्देशक सिद्धांत में आते हैं|

प्रश्न : भारतीय संविधान में वह कौन से उपबंध है जो महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करते हैं? 
उत्तर -भारतीय संविधान के अनुच्छेद 51क (घ) के अनुसार भारत के प्रत्येक नागरिक का यह कर्तव्य होगा कि वह ऐसी प्रथाओं का त्याग करें जो महिलाओं के सम्मान के विरुद्ध है |

Comments

Popular posts from this blog

Article 188 Constitution of India

73rd Amendment in Constitution of India

Article 350B Constitution of India